आज सूफी मुफ्ती अब्दुल्ला फूलपुरी की हयात व खिदमात पर सेमिनार

स्टेटमेन्ट टुडे / समाचार एजेंसी:
जेड ए खान/ब्यूरो मुख्यालय:  लखनऊ, मीडिया सोसाइटी आफ इण्डिया की ओर से सूफी मुफ्ती मोहम्मद अब्दुल्लाह फूलपुरी (रह0) की ‘‘हयात व खिदमात’’ के विषय पर एक सेमिनार का आयोजन कल आठ मार्च को अल-कुरान इंस्टीट्यूट, बर्लिंग्टन स्क्वायर बिल्डिंग, बर्लिंग्टन चैराहा लखनऊ में दोपहर ढाई बजे से होगा, जिसका उद्देश्य बर्रेसगीर में तसव्वुफ व सुलूक और तालीम व तरबियत के मैदान में नुमायां खानवादाए फूलपुरी की अजमत व खिदमात का एतिराफ करना है। सेमिनार के आयोजक और मीडिया सोसाइटी के संयोजक आफाक अहमद ने बताया कि इस सेमिनार की अध्यक्षता दारूलउलूम नदवतुल उलमा के प्राचार्य मौलाना डाक्टर सईदुर्रहमान आजमी नदवी ने किया । जबकि सेमिनार में प्रमुख रूप से वरिष्ठ पत्रकार अहमद इब्राहिम अलवी, विधायक आलम बदी आजमी, विधायक शाह आलम उर्फ गुड्डी जमाली, दारूल मुसन्निफीन शिबली एकेडमी, आजमगढ़ के सीनियर रफीक मौलाना मोहम्मद उमैर सिद्दीक नदवी, लखनऊ विश्वविद्यालय में अरब कल्चर के प्रोफेसर डा0 अयाज अहमद इसलाही, डा0 कमर इकबाल, डा0 अरफात जफर, डा0 एम अनीस, डा0 अकबर अली और डा0 मोहम्मद तारिक जिल्ली के अलावा कई उलमा, मदारिस के जिम्मेदारान, दानिश्वर और शिक्षा विशेषज्ञओं के शामिल हुए । सेमिनार का आगाज मौलाना अम्मार अहसन फलाही की तिलावते कुरान पाक से किया ।
जबकि धन्यवाद ज्ञापन जैद अहमद फारूकी ने दिया । आफाक अहमद ने बताया कि पूर्वी उत्तर प्रदेश की प्रसिद्व दानिशगाह मदरसा इस्लामिया अरबिया बैतुल उलूम, सरांयमीर आजमगढ़ के पूर्व संरक्षक रूहेरवां सूफी मुफ्ती मोहम्मद अब्दुल्ला फूलपुरी, रूहथानवी के कौमी अलम्बरदार, मौलाना शाह अब्दुल गनी फूलपुरी के सच्चे जानशीन, मुहिस्सुन्ना मौलाना शाह अबरारूल हक हरदोई के तरबियतयाफ्ता और खलीफा मजाज थे। मरहूम मुफ्ती साहब ने जहां एक तरफ तसव्वुफ व सुलूक और तालीम व तरबियत के मैदान में बेशबहा खिदमत अंजाम दीं वहीं वह इत्तेहाद बैनुलमुस्लिमीन और तआवुन बैनुलमदारिस के जबर्दस्त पैरोकार थे। ऐसे में हम सब की जिम्मेदारी है कि उन्हें याद करें और खिदमात को खिराजेतहसीन पेश करें।

74 comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *