पहले मैं भी मोदी को ईमानदार समझता था : अरविंद केजरीवाल !

स्टेटमेंट टुडे न्यूज़ / एजेंसी:

मेरठ पहुंचे दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने गुरुवार को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर जमकर हमला बोला. उन्होंने कहा कि नोटबंदी कालाधन को खत्म करने की स्कीम नहीं है बल्कि उसे सफ़ेद करने की स्कीम है.

उन्होंने कहा, “मैं आज मैं वोट मांगने नही आया. मैं इस देश को बचाने का निवेदन करने आया हूं. ये कालाधन खत्म करने की स्कीम नही है, ये कालाधन सफेद करने की स्कीम है, मोदी जी अपने मित्रों को फायदा पहुंचा रहे हैं.”

केजरीवाल ने कहा जो भी लोग लाइन में लगे हैं आज मोदीजी को गालियां दे रहे हैं. पहले मैं मोदीजी को ईमानदार इन्सान समझता था लेकिन ऐसा नहीं है.

उन्होंने कहा, “सरकार धीरे-धीरे कालाधन सफ़ेद कर रही है. जो लाइन में लगा है वो ईमानदार है. कोई भी पूंजीपति लाइन में नहीं लगा. ये आठ लाख करोड़ का घोटाला है.”

केजरीवाल ने कहा, “मोदी जी के बड़े-बड़े लोगों से दोस्ती है. उन लोगों के लोन मोदी जी ने माफ़ कर दिए. सुप्रीम कोर्ट लोन माफी की लिस्ट मांग रहा है, लेकिन केंद्र सरकार वो लिस्ट नहीं दे रही है.”

केजरीवाल ने आरोप लगाया कि मोदीजी ने 1 लाख 14 हजार करोड़ रूपये माफ़ कर दिए, जिसकी वजह से कई बैंक खाली हो गए. कई बैंकों का दिवाला निकल गया.

इतना ही नहीं बीजेपी के लोगों ने अपने कालेधन से पूरे देश में जमीन खरीद ली. अपने मित्रों और अपने लोगों का कालाधन सफेद करके ये फैसला लागू कर दिया. अब पब्लिक जितना पैसा बैंकों में जमा कर रही है उसे 31 दिसम्बर के बाद पूंजीपतियों का लोन माफ़ करने में इस्तेमाल किया जाएगा.

केजरीवाल ने कहा, “मेरे खिलाफ इस समय 24 केस चल रहे हैं. मैं इनसे नही डरता. मैं यहां जो बोलूंगा मोदी के लोग उसे सुन रहे होंगे. जनता से अपील है कि मेरे बयान की मोबाइल से रिकार्डिंग करके लोगों को दिखाना.