ए0पी0एस0 ने सरकारी सख्ती के खिलाफ मोर्चा खोला !

Statement Today5 years ago255521 min
स्टेटमेंट टुडे न्यूज़ एजेंसी:
लखनऊ। एसोसिएशन आफ प्राइवेट स्कूल, उ0प्र0 की एक सभा राजाजीपुरम में हुई जिसमें बड़ी तादाद में विद्यालय के संचालकों ने सम्मिलित होकर सरकार द्वारा लगाए जा रहे तुगलकी फरमानों पर विरोध जताया। अतुल कुमार श्रीवास्तव की अध्यक्षता और डा0 मन्सूर हसन खाँ के संचालन में होने वाली इस सभा में स्कूल संचालकों का मानना था कि हम छोटे-छोटे विद्यालय वाले किस तरह से पैसों की व्यवस्था करके बैंक से क़र्ज़ लेकर विद्यालय की नीव रखते हैं और वर्षों के खून पसीने की मेहनत के बाद जब विद्यालय इस समाज में सम्मान की स्थिति बना पाता है तो सरकारी तंत्र तरह तरह के नियम बनाकर हमलोगों का अपराधी की तरह परस्तुत करता है।
सरकारी तंत्र यह भूल जाता है कि सही तरह से शिक्षा ग्रहण करने के बाद हम लोग विद्यालय शुरू करके ना केवल अपनी बेरोज़गारी को दूर करते हैं बल्कि समाज के कई लोगों को भी रोजगार प्रदान करते हैं। और बच्चों को शिक्षा देकर समाज में शिक्षा की गुणवत्ता भी बनाये रखते हैं।
सरकार इन छोटे स्कूलों को फीस एवं अन्य नियमों में बांधकर गुणवत्ता को खत्म करने का प्रयास कर रही है। स्कूल संचालकों को ऐसे परस्तुत किया जा रहा है जैसे वह गैर कानूनी काम कर रहे हों। अभिभावकों के दिमाग में ज़हर घोला जा रहा है कि कल तक सम्मान देने वाला अभिभावक आज हम लोगों की जरा जरा सी बात में विद्यालय बन्द करवादेने की धमकी देता है।
आज अभिभावकों ने हम पर अपनी मर्जी एवं सुविधा के मुताबिक काम करने का दबाव बनाया हुआ है। आज हम लोग अपनी मेहनत से सींची गयी संस्था में रोज किसी न किसी अन्होनी से डरते रहते हैं।
 स्कूल संचालकों का मानना था कि जब शैक्षिक गुणवत्ता बनाकर एवं तरह तरह के प्रतिबंध से जीत कर समिति बनाते हैं तो फीस का अंकूश लगाकर हमारे पैरों में ज़जीर डाली जा रही है। बैठक में राजेश कुमार, ब्रिजेन्द्र शर्मा, अरशदुल्लाह खान, डा0 एस0बी0 शर्मा, अजय यादव, सिद्धार्थ दिवेदी , रितेश पुष्कर, आर0एम0 मिश्रा, अजय कुमार श्रीवास्तवा और डा0 मन्सूर हसन खाँ ने भी सम्बोधित किया।