नशे में नाबालिग छात्रा से किया था गैंगरेप

Statement Today2 years ago118891 min
Statement Today
इम्तियाज़ अहमद / रिपोर्टर : पटना, बुधवार को नाबालिग छात्रा के साथ पत्रकार नगर में हुए गैंगरेप के दूसरे आरोपित विकास कुमार को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया. विकास हनुमान नगर का रहने वाला है, शुक्रवार को पुलिस ने उसे पुलिस लाइन के पास से गिरफ्तार किया है. आरोपित पुलिस को चकमा देकर पटना छोड़ कर फरार होने की फिराक में था, लेकिन सूचना पर पुलिस ने आरोपित को गिरफ्तार कर लिया.
 वहीं, पहले से गिरफ्तार आरोपित संतोष कुमार सहनी से जब पुलिस ने कड़ी पूछताछ की, तो उसने कई खुलासे किये. संतोष ने बताया कि नशे की हालत में उसने छात्रा के साथ रेप किया है. रेप से पहले उसने शराब पी रखी थी. परिजनों ने पुलिस को दो अन्य आरोपितों के नाम बताये हैं, जिन्होंने छात्रा को अगवा करने में संतोष व विकास की मदद की थी. 
पुलिस के मुताबिक पत्रकार नगर थाना स्थित मांझी पार्क से सटी एमआइजी कॉलोनी स्थित अपने दोस्त के रूम पर छात्रा को लाकर रेप करने की साजिश  संतोष  ने घटना के तीन दिन पहले ही रच डाली थी. विकास से उसने पूरी बात  बतायी थी. वे दो रात छात्रा को कमरे में रखना चाहते थे.  लेकिन पड़ोसी की नजर लड़की पर पड़ गयी थी. 
गिरफ्तारी की डर से 24 घंटे बाद सचिवालय कॉलोनी पार्क  में ले जाकर छोड़ दिया. सिटी एसपी (पूर्वी) जितेंद्र कुमार ने बताया कि छात्रा का मेडिकल टेस्ट कराया गया है. शनिवार को कोर्ट में बयान दर्ज कराया जायेगा. वहीं पीड़िता को अगवा करने वाले सभी आरोपितों को गिरफ्तार करने के लिए तलाश जारी है. 
सूत्रों के मुताबिक जब पत्रकार नगर लॉकअप में विकास को गिरफ्तार कर लाया गया, तो पहले से मौजूद संतोष को देख वह मारने के लिए उठ गया. हालांकि पुलिसवालों ने बीच-बचाव किया और दोनों से कड़ी पूछताछ की. आरोपितों ने हथियार का भय दिखा कर छात्रा को वाहन में बैठा लिया था.
पुलिस ने छात्रा का मेडिकल चेकअप कराया, पुलिस सुरक्षा के बीच पीड़िता को शनिवार को कोर्ट में बयान देने के लिए पेश किया जायेगा. उल्लेखनीय है कि बुधवार की शाम क्लास 7वीं की छात्रा कोचिंग पढ़ने जा रही थी. 
पत्रकार नगर थाने से सटे मांझी पार्क के पास पहले से कार सवार चार बदमाशों ने छात्रा को जबरन कार में बैठा लिया. उस वक्त उसके अन्य साथी भी कार में मौजूद थे. आरोपित उसे एमआइजी कॉलोनी स्थित एक दोस्त के कमरे में लेकर गये. वहां उसके साथ गैंगरेप किया गया. छात्रा किसी तरह उनके चंगुल से छूटी और पूरी बात अपने परिजनों को बतायी.