महिलाओं के सशक्तिकरण के मिशन को प्राथमिकता के आधार पर प्रदेश में आगे बढ़ा रही योगी सरकार

statementtoday.com2 months ago201 min
Statement Today

अब्दुल बासिद/ब्यूरो मुख्यालय: लखनऊ, महिलाओं के सशक्तिकरण के मिशन को प्राथमिकता के आधार पर प्रदेश में आगे बढ़ा रही योगी सरकार ने बजट 2024-25 से ’मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना’ के तहत प्रदान की जाने वाली कुल धनराशि को 15000 रुपए से बढ़ाकर 25000 रुपए कर दिया है। यह धनराशि 6 किश्तों या यूं कहें कि 6 श्रेणियों में प्रदान की जाती है। बजट में किए गए प्राविधान के अनुसार सभी 6 श्रेणियों में धनराशि को बढ़ाया गया है। उल्लेखनीय है कि कन्या भ्रूण हत्या को समाप्त करने, समान लैंगिक अनुपात स्थापित करने, बाल विवाह की कुप्रथा को रोकने, बालिकाओं के स्वास्थ्य व शिक्षा को प्रोत्साहन देने, बालिकाओं का स्वावलम्बी बनाने में सहायता प्रदान करने तथा बालिका के जन्म के प्रति समाज में सकारात्मक सोच विकसित करने के उद्देश्य से महिला कल्याण विभाग द्वारा प्रदेश में अप्रैल, 2019 से ’मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना’ संचालित है। योजना के अन्तर्गत अभी तक पात्र बालिकाओं को 6 चरणों में 15000 की धनराशि प्रदान की जाती रही है।
समस्त पात्र बेटियों को मिलेगा लाभ विभाग की निदेशक संदीप कौर के अनुसार, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के द्वारा वित्तीय वर्ष 2024-25 से ’मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना’ की 6 श्रेणियों में प्राप्त होने वाली कुल धनराशि को 15000 से बढ़ाकर 25000 रुपए किए जाने की घोषणा की गई है। मुख्यमंत्री की घोषणा के क्रम में समस्त पात्र लाभार्थियों को योजनान्तर्गत 6 विभिन्न श्रेणियों में देय धनराशि में वृद्धि किए जाने का निर्णय लिया गया है। इसके तहत अब बेटी के जन्म के समय दी जाने वाली 2000 रुपए की धनराशि को बढ़ाकर 5000 रुपए किया गया है। वहीं एक वर्ष की आयुंतक समस्त टीकाकरण पूर्ण होने पर 1000 रुपए की जगह अब 2000 रुपए दिए जाएंगे। इसी तरह, कक्षा 1, कक्षा 6 और कक्षा 9 में प्रवेश पर 1-1 हजार रुपए की जगह अब 2-2 हजार रुपए दिए जाएंगे। अंत में 10वीं या 12वीं कक्षा उत्तीर्ण कर 2 वर्षीय या अधिक अवधि के डिप्लोमा या स्नातक में प्रवेश पर 5000 की बजाय अब 7000 रुपए की धनराशि दी जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *