यूपी बोर्ड परीक्षाओं के ऑनलाइन मॉनीटरिंग हेतु राज्य स्तरीय कन्ट्रोल रूम की शुरुआत

statementtoday.com2 months ago181 min
Statement Today

अब्दुल बासिद/ब्यूरो मुख्यालय: लखनऊ,प्रदेश की माध्यमिक शिक्षा राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) गुलाब देवी ने रविवार को शिविर कार्यालय, शिक्षा निदेशक(माध्यमिक) लखनऊ में नवीनीकृत सभागार का लोकार्पण तथा उ0प्र0 माध्यमिक शिक्षा परिषद, प्रयागराज द्वारा 22 फरवरी, 2024 से प्रारम्भ हो रही वर्ष 2024 हाईस्कूल एवं इण्टरमीडिएट की परीक्षाओं के ऑनलाइन मॉनीटरिंग हेतु स्थापित राज्य स्तरीय कन्ट्रोल रूम का उद्घाटन किया।

उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की मंशा के अनुरूप वर्ष 2024 की बोर्ड परीक्षाओं को नकल विहीन सम्पन्न कराने हेतु प्रदेश में कुल 8265 परीक्षा केन्द्र बनाये गये हैं, जिनमें 275 परीक्षा केन्द्रों को अति संवेदनशील एवं 466 परीक्षा केन्द्रों को संवेदनशील परीक्षा केन्द्र के रूप में चिन्ह्ति किया गया है।

प्रत्येक परीक्षा केन्द्र के प्रत्येक कक्ष में सी0सी0टी0वी0 कैमरे, वॉयस रिकार्डर तथा राउटर संस्थापित किये गये हैं, जिसके माध्यम से सम्पूर्ण परीक्षा अवधि की लाइव मॉनीटरिंग वेबकास्टिंग के माध्यम से की जायेगी। वर्ष 2024 की बोर्ड परीक्षाओं में हाईस्कूल 29,47,311 एवं इण्टरमीडिएट 25,77,997 कुल 55,25,308 परीक्षार्थी सम्मिलित हो रहे हैं। इस हेतु 8265 केन्द्र व्यवस्थापक, 8265 वाह्य केन्द्र व्यवस्थापक, 8265 स्टैटिक मैजिस्ट्रेट, 1273 सेक्टर मैजिस्ट्रेट, 424 जोनल मैजिस्ट्रेट नियुक्त किये गये हैं तथा 405 सचल दलों का गठन किया गया है। इसके अतिरिक्त शासन स्तर से प्रत्येक जनपद के लिए 75 राज्य स्तरीय पर्यवेक्षकों की भी नियुक्ति की गयी है।

प्रत्येक जनपद में ऑनलाइन मॉनीटरिंग हेतु जनपद स्तरीय कन्ट्रोल रूम की स्थापना की गयी है। संवेदनशील एवं अति संवेदनशील परीक्षा केन्द्रों की निगरानी हेतु एस0टी0एफ0 एवं स्थानीय अभिसूचना इकाई (एल0आई0यू0) को सम्पूर्ण परीक्षा अवधि तक सक्रिय रखा गया है, जिससे परीक्षा प्रश्न-पत्रों के प्रकटन के प्रयास की सम्भावना पर पूर्ण रूप से अंकुश लगाया जा सके।
माध्यमिक शिक्षा मंत्री ने कहा कि 22 फरवरी से 09 मार्च, 2024 तक आयोजित वर्ष 2024 की बोर्ड परीक्षाओं में अनुचित साधन प्रयोग (नकल) की प्रवृत्ति/सम्भावनाओं पर अंकुश लगाने, परीक्षा की शुचिता, पवित्रता, गुणवत्ता, विश्वसनीयता तथा विधि व्यवस्था बनाये रखने के उद्देश्य से शिविर कार्यालय, शिक्षा निदेशक(मा0), उ0प्र0, 18 पार्क रोड, लखनऊ में स्थापित राज्य स्तरीय कन्ट्रोल रूम के माध्यम से सम्पूर्ण बोर्ड परीक्षा अवधि में सुचारू व समयबद्ध एवं नियमित रूप से ऑनलाइन मानीटरिंग की जायेगी।

इस हेतु जनपदवार कम्प्यूटर ऑपरेटर्स, दोनों पालियों में अनुश्रवण एवं पर्यवेक्षण हेतु मण्डल प्रभारी तथा कन्ट्रोल रूम प्रभारी की तैनाती की गयी है। परीक्षा अवधि में कम्प्यूटर ऑपरेटर्स द्वारा जनपद के प्रत्येक परीक्षा केन्द्र के प्रत्येक कक्ष का ऑनलाइन अनुश्रवण किया जायेगा तथा आवश्यकता पड़ने पर दूरभाष के माध्यम से सम्पर्क स्थापित कर परिलक्षित कमियों का निराकरण कराया जायेगा। बोर्ड परीक्षा अवधि में परीक्षाओं की शुचिता व पवित्रता अक्षुण्ण रखने, छात्रों/अभिभावकों की समस्याओं के समाधान हेतु राज्य स्तरीय कन्ट्रोल रूम में जनसामान्य के माध्यम से सुझाव, शिकायतें प्राप्त करने हेतु टोलफ्री नम्बर, सोशल मीडिया प्लेटफार्म यथा- फेसबुक पेज, व्हाट्सएप, X (ट्विटर) की व्यवस्था की गयी है।

राज्य स्तरीय कन्ट्रोल रूम, लखनऊ का टोलफ्री नम्बर-1800 180 6607, 1800 180 6608 तथा उ0प्र0 माध्यमिक शिक्षा परिषद्, प्रयागराज का टोलफ्री नम्बर 1800 180 5310, 1800 180 5312 है। इसके अतिरिक्त फैक्स 0522.2237607, ईमेल आई0डी0 upboardexams2024@gmail.com फेसबुक upboardexams2024, व्हाट्सएप नम्बर 9235071514, X (ट्विटर) @ upboardexam24  से भी संपर्क किया जा सकता है। इसके अतिरिक्त बोर्ड परीक्षा अवधि में गहनता से ऑनलाइन मानीटरिंग तथा समीक्षा के दृष्टिगत साक्षरता एवं वैकल्पिक शिक्षा निदेशालय, नवीउल्लाह रोड, लखनऊ के परिसर में संचालित विद्या समीक्षा केन्द्र में राज्य स्तरीय कन्ट्रोल रूप स्थापित किया गया है।

माध्यमिक शिक्षा मंत्री ने कहा कि नवीनीकृत सभागार में मण्डलीय एवं जनपदीय अधिकारियों की समीक्षा बैठकों व विभिन्न प्रशिक्षण कार्यक्रमों के आयोजन तथा बोर्ड परीक्षा की ऑनलाइन मॉनीटरिंग हेतु फर्नीचर, 55 वर्क स्टेशन्स, नेटवर्किंग एवं ऑडियो/वीडियो आदि उपकरणों की व्यवस्था के साथ सुसज्जित किया गया तथा सभागार व शौचालय का सुदृढ़ीकरण किया गया है। सभागार के नवीनीकृत होने से जहाँ एक ओर विभागीय समीक्षा बैठकों के आयोजन हेतु अपना पर्याप्त स्थान सुलभ होगा एवं विभागीय कार्यक्रमों की गहन समीक्षा व अनुश्रवण कार्य किया जा सकेगा एवं  वहीं दूसरी ओर प्रतिवर्ष स्थापित होने वाले राज्य स्तरीय कन्ट्रोल रूम में बोर्ड परीक्षा के ऑनलाइन मॉनीटरिंग हेतु संलग्न कार्मिकों को अच्छे वातावरण में सुचारू रूप से कार्य करने का सुअवसर प्राप्त होगा।

माध्यमिक शिक्षा मंत्री ने वर्ष 2024 बोर्ड परीक्षा हेतु की गयी नवीन व्यवस्थाओं पर प्रकाश डालते हुए बताया कि छात्र-छाआओं की सुविधा के दृष्टिगत इस वर्ष प्रथम बार प्रथम पाली की परीक्षा का समय प्रातः 8.00 से 11.15 के स्थान पर बढ़ाकर 8.30 से 11.45 किया गया है।

द्वितीय पाली का समय पूर्ववत् अपरान्ह 2.00 से शाम 5.15 तक है। परीक्षा की शुचिता एवं नकलविहीन परीक्षा के आयोजन के दृष्टिगत इस वर्ष प्रथम बार परिषद के पॉचों क्षेत्रीय कार्यालय 1-प्रयागराज, 2-वाराणसी, 3-मेरठ, 4-बरेली एवं 5- गोरखपुर एवं मुख्यालय प्रयागराज में भी एक-एक कन्ट्रोल सेन्टर स्थापित कराया गया जोकि 75 जनदीय एवं 02 राज्य स्तरीय कन्ट्रोल रूम के अतिरिक्त बोर्ड परीक्षा का ऑनलाइन अनुश्रवण करेंगे। उन्हांने बताया कि परीक्षा केन्द्रों पर प्रश्न-पत्रों की सुरक्षा व्यवस्था के दृष्टिगत प्रधानाचार्य कक्ष से पृथक कक्ष में प्रश्न-पत्रों के रख-रखाव हेतु स्ट्राँग रूम स्थापित किया गया है तथा स्ट्राँग रूम के मुख्य प्रवेश द्वार को छोड़कर अन्य सभी द्वार एवं खिड़कियों को सील कराया गया है। स्ट्रांग रूम से प्रश्न-पत्र की निकासी तथा उसके वितरण हेतु केन्द्र व्यवस्थापक, बाह्य केन्द्र व्यवस्थापक तथा स्टैटिक मैजिस्ट्रेट को संयुक्त रूप से उत्तरदायी बनाया गया है।

परिषदीय परीक्षाओं की शुचिता, पवित्रता, गुणवत्ता, विश्वसनीयता, विधि व्यवस्था अक्षुण्ण रखने, परीक्षा केन्द्रों पर प्रश्नपत्रों के पूर्व प्रकटन एवं नकल की दुष्प्रवृत्ति पर अंकुश लगाने हेतु परीक्षा केन्द्रों पर स्थापित किये गये स्ट्रांग रूम को 24×7 सी0सी0टी0वी0 कैमरे की निगरानी में रखने की व्यवस्था की गयी है।

माध्यमिक शिक्षा मंत्री ने बताया कि प्रश्नपत्रों को सुरक्षित रखने हेतु डबल लॉक अलमारी को खोलने, प्रश्नपत्रों के पैकेट को खोले जाने का समय, प्रश्नपत्रों के वितरण तथा अवशेष प्रश्नपत्रों को स्ट्रांग रूम में पृथक से रखी डबल लॉक अलमारी में रखे जाने आदि विहित व्यवस्थाओं के सम्बन्ध में परिषद 10 अधिकारियों को मास्टर ट्रेनर्स के रूप में नियुक्त कर ऑडियो-वीडियो प्रेजेन्टेशन के माध्यम से केन्द्र व्यवस्थापकों का प्रशिक्षण कराया गया।

प्रशिक्षित केन्द्र व्यवस्थापक द्वारा अपने-अपने जनपद में जिला विद्यालय निरीक्षक के निर्देशन में अन्य सभी केन्द्र व्यवस्थापकों को प्रशिक्षित किया गया है। परीक्षा केन्द्रों पर नकलविहीन परीक्षाओं के आयोजन के दृष्टिगत परीक्षा कक्षों में निरीक्षण हेतु लगाये गये लगभग 2.75 लाख कक्ष निरीक्षकों हेतु प्रथम बार एक सुरक्षित क्यूआर कोड एवं क्रमांकयुक्त कम्प्यूटराइज्ड परिचय-पत्र तैयार कराया गया है, जिससे कक्ष निरीक्षण की व्यवस्था और भी सुदृढ़, प्रभावी और पारदर्शी हो सकेगी। उत्तर पुस्तिकाओं की अदला-बदला की संभावनाओं को रोकने के दृष्टिगत अन्य सुरक्षात्मक उपायों साथ-साथ प्रथम बार उसके आन्तरिक पृष्ठ पर परिषद का लोगो तथा प्रत्येक पृष्ठ पर क्रमांक संख्या मुद्रित करायी गयी है।

माध्यमिक शिक्षा मंत्री ने समस्त परीक्षार्थियों को शुभकामनायें देते हुए उनसे बिना किसी तनाव के प्रसन्नचित होकर सौहार्दपूर्ण वातावरण में परीक्षा में सम्मिलित होने का आह्वान किया। उन्होंने बोर्ड परीक्षा में संलग्न अधिकारियों/कर्मचारियों, प्रधानाचार्यों तथा शिक्षकों से अपील की है कि परीक्षा के इस महापर्व को निर्विघ्न रूप से सम्पन्न कराने में अपना बहुमूल्य योगदान दें।

इस अवसर पर डॉ0 महेन्द्र देव, शिक्षा निदेशक(माध्यमिक)  सुरेंद्र कुमार तिवारी, अपर शिक्षा निदेशक (माध्यमिक), अजय कुमार द्विवेदी, अपर शिक्षा निदेशक (राजकीय), दिव्यकान्त शुक्ल, सचिव, माध्यमिक शिक्षा परिषद, प्रयागराज सहित तथा शिक्षा विभाग के वरिष्ठ अधिकारीगण उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *